"मैंने देश को मजबूत और आत्मनिर्भर बनाने के लिए वोट दिया है" जेपी नड्डा

छत्तीसगढ़, देश

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आज कहा कि उन्होंने भारत को और भी मजबूत और आत्मनिर्भर बनाने के लिए अपना वोट दिया है। नड्डा ने छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में मतदान किया। इसके बाद मीडिया में, नड्डा ने कहा कि भारत के लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश के भविष्य को लेकर आशान्वित हैं। नड्डा ने कहा कि, "मैंने देश को मजबूत और आत्मनिर्भर बनाने के लिए वोट दिया है। जिस तरह से भारत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में प्रगति की है। इसलिए न केवल हम, बल्कि करोड़ों लोग अब एक अलग भारत को देख रहे हैं, जो 10 साल पहले जैसा था और भविष्य को लेकर आशान्वित हैं।" 

जेपी नड्डा ने कहा कि, "10 साल पहले, लोगों ने राजनीति और राजनेताओं से हार मान ली थी। अब उन लोगों ने भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अपनी उम्मीदें लगाई हैं और आगे बढ़ रहे हैं।" 63 वर्षीय नड्डा ने विपक्ष के इस दावे को भी खारिज कर दिया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सत्ता में आने पर संविधान बदल देगी। उन्होंने कहा कि जब इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री थीं, तो कांग्रेस ने 1976 में खुद संविधान की प्रस्तावना बदल दी थी और अब मतदाताओं को विभाजित करने के लिए इस मुद्दे को उठाने की कोशिश कर रही है। नड्डा ने कहा कि, "कांग्रेस कभी सकारात्मक तरीके से काम नहीं करती। वे देश को कभी कोई सकारात्मक संदेश नहीं देते। वे बाधा पैदा करने वाली शक्तियों के साथ काम करते हैं और हमेशा ऐसे मुद्दे खोजने की कोशिश करते हैं, जो समाज को विभाजित करें।" 

भाजपा प्रमुख ने कहा कि, "कांग्रेस को यह पसंद नहीं है कि जब वे कुछ ऐसा देखते हैं जो देश को एकजुट करे और इसे आगे ले जाए। कांग्रेस केवल समाज को विभाजित करना चाहती है और वोट बैंक की राजनीति करती रहती है।" भाजपा लगातार तीसरी बार जीतने की उम्मीद कर रही है और उसका मुकाबला एकजुट विपक्ष से है, जो INDIA ब्लॉक के बैनर तले चुनाव लड़ रहा है। भाजपा और उसके सहयोगियों ने 2019 के पिछले चुनाव में भारत के निचले सदन, लोकसभा की 543 सीटों में से 353 सीटें जीती थीं, जिसमें अकेले भाजपा ने 303 सीटें जीती थीं। भाजपा इस बार चुनाव में जीत की उम्मीद कर रही है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीसरे कार्यकाल पर नजर गड़ाए हुए है। वह इस मुकाबले में सबसे आगे हैं, उनके बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी हैं, जिन्हें मोटे तौर पर विपक्ष का चेहरा माना जाता है।

Back to Top